Upendra Kushwaha Will Decide On Coalition After Meeting Rahul Gandhi – अब राहुल से मिलने के बाद ही गठबंधन पर फैसला लेंगे कुशवाहा, 10 दिसंबर को कर सकते हैं मुलाकात

ख़बर सुनें

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने मोतिहारी अधिवेशन के बाद पत्रकारों से बात करते हुए राज्य सरकार पर तो खूब हमले किए लेकिन एनडीए में रहने या अलग होने पर तस्वीर साफ नहीं की। कुशवाहा ने ऐसा कोई एलान नहीं किया, जिसकी राजनीति गलियारों में उम्मीद की जा रही थी। कहा जा रहा है कि एनडीए में रहने या बाहर जाने पर अंतिम फैसला अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात के बाद लिया जा सकता है।
 
10 दिसंबर को राहुल गांधी से उपेंद्र कुशवाहा की मुलाकात हो सकती है। इस मुलाकात के बाद ही वे केंद्रीय मंत्रिपरिषद से इस्तीफा भी दे सकते हैं। वैसे इस मसले पर उपेंद्र कुशवाहा ने बस इतना कहा कि मैं किससे मिलूं यह कोई और तय नहीं कर सकता है। किसी से भी मिलने के लिए मुझे किसी से मंजूरी लेने की जरूरत नहीं है। 

सूत्रों की माने तो उपेंद्र कुशवाहा अब शरद यादव की पार्टी के साथ विलय करके कांग्रेस के साथ नए सिरे से गठबंधन पर बात करने की कोशिश में हैं। वैसे कुशवाहा का हर दांव खाली जा रहा है, ऐसे में राहुल से मुलाकात के बाद भी कोई नतीजा निकलेगा यह देखने वाली बात है।

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने मोतिहारी अधिवेशन के बाद पत्रकारों से बात करते हुए राज्य सरकार पर तो खूब हमले किए लेकिन एनडीए में रहने या अलग होने पर तस्वीर साफ नहीं की। कुशवाहा ने ऐसा कोई एलान नहीं किया, जिसकी राजनीति गलियारों में उम्मीद की जा रही थी। कहा जा रहा है कि एनडीए में रहने या बाहर जाने पर अंतिम फैसला अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात के बाद लिया जा सकता है।

 
10 दिसंबर को राहुल गांधी से उपेंद्र कुशवाहा की मुलाकात हो सकती है। इस मुलाकात के बाद ही वे केंद्रीय मंत्रिपरिषद से इस्तीफा भी दे सकते हैं। वैसे इस मसले पर उपेंद्र कुशवाहा ने बस इतना कहा कि मैं किससे मिलूं यह कोई और तय नहीं कर सकता है। किसी से भी मिलने के लिए मुझे किसी से मंजूरी लेने की जरूरत नहीं है। 

सूत्रों की माने तो उपेंद्र कुशवाहा अब शरद यादव की पार्टी के साथ विलय करके कांग्रेस के साथ नए सिरे से गठबंधन पर बात करने की कोशिश में हैं। वैसे कुशवाहा का हर दांव खाली जा रहा है, ऐसे में राहुल से मुलाकात के बाद भी कोई नतीजा निकलेगा यह देखने वाली बात है।




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*